मक्के की चपाती (रोटी) खाने के फायदे और नुकसान | Makki Ki Chapati Khane Ke Fayde Or Nuksan

मक्के की चपाती या इसके दाने का सेवन करना हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभकारी होता हैं| सर्दियों के मौसम में मक्के की रोटी का सेवन बहुत ही फायदेमंद माना जाता हैं| मक्का के ये लाभ इसमें पाए जाने वाले पोष्टिक गुणों के कारण मिलते हैं| मक्का की खेती व्यापक रूप से आंध्रप्रदेश, राजस्थान, बिहार, यूपी और कर्नाटक में की जाती हैं| लेकिन मक्का का सेवन कई राज्यों में किया जाता हैं| इंडिया में 7 प्रकार की मक्का पाई जाती हैं – स्वीट कॉर्न, पॉप कॉर्न, फ्लिंट कॉर्न, सॉफ्ट कॉर्, वैक्सि कॉर्न, पॉड कॉर्न, और  डेंट कॉर्न | दर्द मुक्ति की इस पोस्ट में हम मक्के की चपाती खाने के फायदे और नुकसान के बारे में विस्तार से जानेंगे |

मक्के की चपाती खाने के फायदे

Table of Contents

मक्के की चपाती ( रोटी) के पोषकतत्व – Makki Ki Roti Me Kya Paya Jata Hain

यह रोटी पोषकतत्वों से भरपूर होती हैं| इसमें विटामिन ए, विटामिन बी, विटामिन सी, विटामिन ई पाया जाता हैं| मक्के की चपाती में कई तरह खनिज तत्व जैसे – आयरन, जिंक, मैगनीज, सेलेनियम, और पोटेशियम की भरपूर मात्रा होती हैं| इसके  अलावा मक्का फाइबर, बायोफ्लेविनॉइड्स, कैरोटेनॉइड का भी अच्छा स्त्रोत हैं|

मक्के की चपाती खाने के फायदे – Makki ki chapati (Roti) Khane ke Fayde In Hindi

इसमें पाए जाने वाले पोषक तत्वों के बारे में आप पोस्ट के ऊपरी भाग में जान ही चुके हो| मक्के कि रोटी का सेवन कर हम किस प्रकार स्वास्थ्य लाभ उठा सकते हैं, यह नीचे विस्तार से जान लेते हैं-

मक्के की चपाती खाने के लाभ हृदय के लिए हिंदी में

दिल को स्वस्थ रखने में मक्के की चपाती का सेवन करना फायदेमंद हो सकता हैं। इसे खाने से कोलेस्ट्रॉल का स्तर कम हो जाता हैं, जिससे कार्डियोवस्कुलर का खतरा कम हो जाता है। मक्के के दाने में ओमेगा 3 फैटी एसिड भी होता हैं, जो दिल के स्वास्थ्य के लिए अच्छा होता है। इसके अलावा इसके सेवन से उच्च रक्तचाप की समस्या कम हो जाती है। रक्तचाप नियंत्रण में रहने से हार्ट अटैक और स्ट्रोक का खतरा कम हो जाता है।

पाचन तंत्र के लिए मक्के की रोटी खाने के फायदे

पाचन संबंधी विकारों को दूर करने में मक्के की चपाती  का सेवन करना फायदेमंद हो सकता है। इसमें फाइबर उच्च मात्रा में होता है। फाइबर युक्त भोजन करने से पाचन क्रिया में सुधार होता है और हानिकारक पदार्थ शरीर से आसानी से बाहर निकल जाते हैं। इसके अतिरिक्त इसका सेवन से पेट से संबंधित समस्या कब्ज गैस एसिडिटी से भी छुटकारा मिल जाता हैं।

मक्के की चपाती खाने के फायदे कैंसर से बचाव में

कैंसर की रोकथाम के लिए इसका सेवन किया जा सकता हैं। इसमे एंटीओक्सिडेंट, बीटा-क्रिप्टोजेंथिन भरपूर मात्रा में होता हैं। मक्के के ये गुण फेफड़े, लीवर, ब्रेस्ट कैंसर होने से बचाव में मददगार होते हैं।

खून की कमी दूर करने के लिए खाए इसे

शरीर में रक्त की कमी होने पर थकान, तनाव काम में मन न लगना ऐसी समस्याएं देखने को मिलती है। ऐसे में इसका सेवन करना फायदेमंद होता है। इसके दाने में आयरन, जिंक, और बीटा कैरोटीन होता हैं। यह तीनों ही तत्व शरीर में खून की कमी दूर करने मैं मदद करते हैं और हमें एनीमिया होने के खतरे से बचाते हैं।

मक्के की रोटी खाने के फायदे गर्भावस्था में

गर्भवती महिलाओं को मक्के की चपाती अपनी डाइट में शामिल करना फायदेमंद साबित हो सकता है। इसमें वॉलेट की मात्रा पाई जाती है जो गर्भवती महिला और गर्भ में पल रहे बच्चे  के विकास को बढ़ावा देती है। इसके अलावा मक्के में आयरन की मात्रा भी पाई जाती है जिससे गर्भावस्था के दौरान होने वाली खून की कमी को दूर किया जा सकता है।

सर्दी-जुकाम के लक्षणों कम करने में लाभ     

सर्दी जुकाम की समस्या में राहत पाने के लिए भी मक्के का इस्तेमाल किया जा सकता है। इसके लिए आप मक्के के भुट्टे को आग में जलाकर राख बना लें। अब इस राख की एक चम्मच मात्रा में स्वाद अनुसार सेंधा नमक मिलाकर दिन में 4 बार सेवन करें। ऐसा करने से जल्द ही सर्दी जुकाम के लक्षणों में आराम मिलता है।

मक्के की रोटी खाने के फायदे हड्डियों के लिए

हड्डियों के विकास और मजबूती के लिए मक्के की चपाती खाने के फायदे देखे गए हैं। इस के दाने में मैग्नीशियम और आयरन की अच्छी मात्रा पाई जाती है। ये दोनों ही तत्व हड्डियों को मजबूती प्रदान करते हैं।  इसके अलावा मक्के के दाने में जिंक, फास्फोरस पाया जाता हैं, जो आर्थराइटिस, ऑस्टियोपोरोसिस जैसे रोग होने से बचाते हैं।

मक्के की चपाती खाने के फायदे आँखों के लिए

इसके सेवन से आंखों की रोशनी बढ़ाने में भी मदद मिल सकती हैं। इसमे विटामिन ए पाया जाता हैं, जो रतोंधी रोग होने से बचाता हैं। इसके अलावा मक्के में मौजूद रेटिनाइड्स आंखों के रेटिना के लिए फायदेमंद हैं।

मूत्र विकार संबंधित परेशानियों में फायदेमंद

मूत्र विकारो को दूर करने में भी मक्का लाभकारी हो सकती है। इसमे कुछ ऐसे तत्व पाए जाते है, जो पेशाब में जलन, रुक-रुककर पेशाब आना जैसी दिक्कतों में राहत पहुंचाते हैं। इसके भुट्टे को पानी मे उबालकर मिश्री मिलाकर पीने से मूत्र विकारो में राहत मिलती हैं।

त्वचा के बेहतर स्वास्थ्य के लिए लाभकारी

स्किन की झुर्रियां कम करने और त्वचा रोगों से बचाव के लिए भी मक्के का उपयोग किया जा सकता हैं । हम पहले ही जान चुके हैं कि मक्का में विटामिन ए और बीटा-कैरोटीन होता है, जो त्वचा की सुंदरता बढ़ाने के साथ-साथ इसे सुरक्षा भी प्रदान करता है।

मक्के की चपाती खाने के नुकसान – Makki Ki Chapati (Roti) Khane Ke Fayde In Hindi

इसका सेवन करने से हमें ज्यादातर लाभ ही देखने को मिलते हैं| कुछ विशेष परिस्थितियों में इसका  सेवन और अत्याधिक मात्रा में सेवन करने से कुछ नुकसान हो सकते हैं, जो इस प्रकार हैं –

  1. मक्के की चपाती का अधिक सेवन करना मधुमेह के रोगियों के लिए नुकसानदायक हो सकता हैं| अति सेवन रक्त में शर्करा के स्तर को बढ़ा सकता हैं|
  2. इसका का अत्याधिक मात्रा में सेवन करने से पाचन सम्बन्धी समस्याए जैसे – पेट दर्द, अपच, उल्टी, दस्त, हो सकता हैं|
  3. यदि इसे खाने के तुरंत बाद  यदि आपको कोई एलर्जी हो इसका सेवन बिलकुल न करे और डॉक्टर से सलाह ले|
  4. यदि आप किसी गम्भीर बीमारी के लिए दवाइयों का सेवन कर रहे तो, मक्के के सेवन से पहले डॉक्टर की राय जरुर ले|
  5. मक्के के कच्चे दाने का बिलकुल सेवन न करे, ऐसा करने से पेट दर्द और अन्य कई समस्याए आ सकती हैं|

1 Comment on “मक्के की चपाती (रोटी) खाने के फायदे और नुकसान | Makki Ki Chapati Khane Ke Fayde Or Nuksan

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*